Hardik Pandya & KL rahul were suspended, what about Harmanpreet Kaur, BCCI own official raise question


मुंबई:

हाल ही में विवादित बयान मामले में हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) और केएल राहुल (KL Rahul) का निलंबन क्या हुआ कि अब यह मामला एक अलग ही रूप लेता दिखाई पड़ रहा है. और मामले में क्रिकेट प्रशासकीय कमेटी (सीओए) खुद ही घिरती दिखाई पड़ रही है. दरअसल बीसीसीआई (BCCI) के ही एक अधिकारी ने सीओए के दोहरे रवैये पर सवाल खड़े कर दिए हैं. और उन्होंने इस मामले को महिला टी-20 की कप्तान हरमनप्रीत कौर से जोड़ दिया है. वहीं, केएल राहुल और हार्दिक मामले से निपटने को लेकर भी सीओए आलोचना का शिकार हो रही है. 

अब यह तो आप जानते ही हैं कि केएल राहुल और हार्दिक पंड्या दोनों ही बीच ऑस्ट्रेलिया दौरे से वापस भारत लौट चुके हैं. लेकिन अब सवाल इन खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर उठने लगे हैं. केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने भी ट्वीट करके कहा है कि इन दोनों खिलाड़ियों के विषय से अच्छी तरह नहीं निपटा जा रहा है. बाबुल सुप्रियो ने सीओए की सदस्य डायना एडुल्जी की समझ पर भी सवाल उठाया है. वहीं, अब सोशल मीडिया सहित तमाम हल्कों में चर्चा यह होने लगी है कि हार्दिक व राहुल चार महीने बाद होने वाले विश्व कप में खेलेंगे भी या नहीं. 

यह भी पढ़ें: Ind vs Aus: विराट कोहली ने दूसरे वनडे से पहले अनुष्‍का शर्मा के साथ पोस्‍ट की फोटो तो फैंस ने दी यह नसीहत

अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि इस मामले की जांच कौन करेगा. सीओए के सदस्य  विनोद राय और डायना एडुल्जी के भीतर ही जांच के तरीके को लेकर आपस में टकराव है. बहरहाल, अब बोर्ड के एक अधिकारी ने ही सीओए को घेरते हुए कहा कि बीसीसीआई दोहरे मानंड क्यों अपना रहा है. उन्होंने कहा क पिछले साल जुलाई में महिला टी-20 कप्तान हरमनप्रीत कौर की स्नातक की डिग्री जाली पाई गई थी.

तब पंजाब पुलिस ने जांच के बाद हरमनप्रीत की डिग्री को फर्जी पाया था. और इसके बाद उन्हें डीएसपी के पद से हटा दिया गया था. पंजाब पुलिस ने कहा था कि उनकी शैक्षणिक योग्यता 12वीं है. और इस आधार पर वह कांस्टेबल पद की ही पात्र हैं. हरमनप्रीत के इस मामले की जांच चल रही है. और वह अपनी कानूनी लड़ाई लड़ रही हैं. अधिकारी ने कहा कि जब जांच पूरी होने तक केएल राहुल और हार्दिक को निलंबित किया जा सकता है, तो हरमनप्रीत क्यों लगातार कप्तानी करती रहीं, या अभी भी टीम में बनी हुई हैं. यह बीसीसीआई का दोहरा रवैया दिखाता है.  

VIDEO: ऑस्ट्रेलिया दौरे पर रवाना होने से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली

इस अधिकारी ने अपना नाम न छापने की शर्त पर कहा कि कोई शख्स है, जो  हरमनप्रीत कौर को बचा रहा है. जबकि हरमनप्रीत अपना डीएसपी रैंक गंवा चुकी हैं और अभी भी कानूनी लड़ाई लड़़ रही हैं.  लेकिन वह शख्स इन खिलाड़ियों पर एक साल का बैन लगाना चाहता है. जाहिर है कि इस शख्स का इशारा डायना एडुल्जी की तरफ है. जहां विनोद राय सिर्फ दो मैचों का प्रतिबंध लगाना चाहते थे, वहीं डायना ने दोनों के खिलाफ प्रतिबंध लगाने की बात कही थी.  





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

JantaDarbarNews | News Portal By - 

Copyright © All rights reserved. |